प्रमुख भारतीय भाषाएं - Important Indian languages

आज मै आपलोगों को प्रमुख भारतीय भाषाएं - Indian languages  के  बारे में बताने जा रहा हु जो विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओ जैसे – UPSC , PCS , SSC , CTET , RAILWAY  अदि  में पूछे जाते है . भारत एक येसा देश है जहा पर एनेकता में एकता है . भारत का स्वरूप भौगोलिक अनेकता के साथ साथ  भाषा के आधार पर भी अनेकता रखता है . एक रिपोर्ट के अनुसार भारत में 1652 मातृभाषा प्रचलन में है . लेकिन 22 भारतीय  भाषा को दर्जा प्राप्त है . संविधान के 344 अनु. के अनुसार पहले केवल 15 भाषाओ को सविधान में दर्जा प्राप्त था लेकिन 21 वे. संविधान संसोधन में सिन्धी भाषा को जोड़ा गया 71 वे. संसोधन में नेपाली , कोकणी , मणिपुरी को दर्जा मिला तथा 92 वा. संसोधन 2003 में बोडो , डोकरी , मैथिली तथा संथाली  को शामिल किया गया .
तो चलिए हम इन 22 भारतीय भाषाओ को देखते है . यह भाषा किस राज्य की अधिकारिक भाषा है और कहा पर अधिक बोली जाती है . इन सब को बताते है .

bhartiy-bhasha


असमिया – भारतीय आर्य परिवार की यह भाषा असम की अधिकारिक भाषा है .
बांग्ला – यह पश्चिम बंगाल की अधिकारिक भाषा है और यह भी भारतीय आर्य परिवार की भाषा है
गुजराती – गुजराती की इस अधिकारिक भाषा की उत्पत्ति भी भारतीय आर्य परिवार से हुई है .
हिन्दी – भारतीय आर्य परिवार की यह भाषा भारत में सबसे ज्यादा तथा दुनिया में तीसरी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा है . यह भारत सरकार की अधिकारिक भाषा है और साथ ही इसे देश की राजभाषा का दर्जा भी हासिल है . हिन्दी भाषा की बोलिओ में ब्रजभाषा , बुन्देली , अवधी , मारवाड़ी और भोजपुरी आती है .

कन्नड़ – यह द्रविड़ परिवार की भाषा है और कर्नाटक की अधिकारिक भाषा है .
कश्मीरी – यह भारतीय आर्य परिवार की भाषा है . जम्मू- कश्मीर की ५५% जनता इसे बोलती है परन्तु यह वहा की अधिकारिक भाषा नहीं है .
कोकणी – यह गोवा की अधिकारिक भाषा है और महाराष्ट्र कर्नाटक तथा केरल में बड़ी तादाद में लोग इसे बोलते है .
मलयालम – द्रविड़ परिवार की इस भाषा को केरल की अधिकारिक भाषा का दर्जा प्राप्त है .
मणिपुरी – यह मणिपुर की अधिकारिक भाषा है
मराठी – महाराष्ट्र की इस अधिकारिक भाषा की उत्पत्ति भारतीय आर्य परिवार से हुई है .
नेपाली – मूल रूप से नेपाल की इस भाषा को उत्तर प्रदेश , पश्चिम बंगाल , बिहार , और असम में बोली जाती है .
उड़िया – भारतीय आर्य परिवार की यह भाषा उड़िसा की अधिकारिक भाषा है .
पंजाबी – भारतीय आर्य परिवार की यह भाषा पंजाब की अधिकारिक भाषा है . यह पंजाब में जबसे ज्यादा बोली जाती है .
संस्कृत – यह भारत की सबसे प्राचीन तथा संसार की प्राचीनतम भाषाओ में से एक है . भारतीय आर्य परिवार की इस भाषा की उत्पत्ति २००० ई. पु. में ऋग्वेदिक काल में हुआ था .
सिन्धी – भारतीय आर्य परिवार की यह भाषा सन 1967 में 21वे. सविधान संशोधन द्वारा जोड़ा गया . पाकिस्तान में यह अरबी- फारसी लिपि में लिखी जाती है जबकि भारत में यह देवनागरी लिपि में लिखी जाती है .
तमिल – तमिलनाडु की यह अधिकारिक भाषा द्रविड़ भाषाओ में सबसे बड़ी है . यह द्रविड़ परिवार की सबसे पुरानी भाषा है .
 तेलगु – संख्या की दृष्टि से यह द्रविड़ भाषा में सबसे बड़ी है .  यह आंध्र प्रदेश की अधिकारिक भाषा है .
उर्दू – यह जम्मू और कश्मीर की अधिकारिक भाषा है , उर्दू का वर्तमान स्वरूप सर सैयद अहमद खान (1817-1898 ) के प्रयासों की देन है .
संथाली – यह मुखतः बिहार और झारखण्ड में बोली जाती है .
मैथिली – यह मुख्यतः पूर्वी उत्तर प्रदेश के अवध फ़ैजाबाद क्षेत्र में बोली जाती है .
बोडो – यह असम के बोडो इलाके में बोली जाती है .
डोगरी – यह जम्मू- कश्मीर और हिमांचल प्रदेश में बोली जाने वाली भारतीय भाषा है .

तो दोस्तों मै उम्मीद करता हु की प्रमुख भारतीय भाषाओ के बारे में समझ में अगया होगा .इसे आप फेसबुक पर  शेयर जरुर करे साथ ही मेरे फेसबुक पेज  को लाइक करना न भूले जिससे आपको लेटेस्ट पोस्ट की सुचना तुरंत मिल सके .